Home बडी खबर आयुष्मान भारत के तहत अब तक लगभग 15000 से ऊपर लोगों ने...

आयुष्मान भारत के तहत अब तक लगभग 15000 से ऊपर लोगों ने उठाया लाभ

7
0

 

*आयुष्मान पखवारा में बनेंगे नि:शुल्क गोल्डन कार्ड*
– *26 जुलाई से 9 अगस्त तक चलेगा पखवारा*
– *अब तक 15 हजार से अधिक ने लिया याेजना का लाभ*

एन सी वर्मा
सीतापुर, मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के आयुष्मान कार्ड विहीन लाभार्थी परिवारों को आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) उपलब्ध कराने के लिए विशेष अभियान चलाया जायेगा । इसके अन्तर्गत 26 जुलाई से 9 अगस्त तक विशेष “आयुष्मान पखवारा” चलाया जाएगा। इस आशय की जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मधु गैरोला ने दी। उन्होंने बताया कि इस पखवारे में 15 लाख गोल्डन कार्ड बनाने का लक्ष्य है। इस कार्ड के माध्यम से कोई भी लाभार्थी देश भर में किसी भी सूचीबद्ध अस्पताल में पांच लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज करा सकता है।
सीएमओ ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार आयुष्मान कार्ड विहीन परिवारों को लक्षित करते हुए पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा है । इसमें लक्षित परिवारों को योजना के प्रति जागरूक करते हुए आयुष्मान कार्ड कैंप तक लाने एवं अधिक से अधिक पात्र लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड बनवाने का हर संभव प्रयास किया जायेगा। इस अभियान में ऐसे परिवारों को लक्षित किया जायेगा जिनमें एक भी आयुष्मान कार्ड उपलब्ध नहीं है। आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए कोई भी शुल्क नहीं देना होगा। इसके लिए जन सेवा केन्द्र या नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर निःशुल्क कार्ड बनवा सकते हैं। अभियान में पंचायती राज, ग्राम्य विकास विभाग और आईसीडीएस विभाग आदि का सहयोग भी लिया जायेगा । किसी सार्वजानिक स्थान पर कैंप का आयोजन किया जायेगा जहाँ लोग आसानी से पहुंच सकेंगे।

मिलेगी प्रोत्साहन राशि —
आयुष्मान भारत के नोडल अधिकारी एवं उप मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. राजशेखर ने बताया कि जिले में अब तक 4 लाख 40 हजार से अधिक आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं। इनमें से 15,164 लाभार्थी इस योजना का लाभ उठा कर नि:शुल्क उपचार भी करा चुके हैं। उन्होंने बताया कि लक्षित परिवारों को प्रेरित कर कैंप में लाने और आयुष्मान कार्ड बनवाने पर आशा और आरोग्य मित्रों को प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रति परिवार कम से कम एक कार्ड बनवाने पर पांच रुपये और एक से अधिक कार्ड बनवाने पर 10 रुपये दिए जाएंगे। उन्होंने पात्र व्यक्तियों से अपील की है कि वह आयुष्मान कार्ड बनवा कर इस योजना का लाभ उठाएं और कार्ड बनवाने जब जाएं तो अपना आधार कार्ड और राशन कार्ड अथवा परिवार रजिस्टर की नकल लेकर जरूर जाएं। उन्होंने ग्राम प्रधानों से अपील की है कि वह इस अभियान में रूचि लेकर अपने गांव के सभी पात्र व्यक्तियों के गोल्डन कार्ड बनवाने में सहयोग करें।

Previous articleकांग्रेस पार्टी के कार्यालय में पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ का संपन्न हुई बैठक
Next articleगुरु पूर्णिमा के अवसर पर भाजपाइयों ने किया सम्मानित